Hindi Songs (हिंदी गीत )

Here is the section for Hindi Songs sung by me. Request you to consider the fact this these attempts are made by an ameteur, whose love for music may not be commensurate with the fare that he dishes out. Hence, listen with a kind and forgiving heart. Of course, any feedback, good, bad, or ugly, would be highly appreciated.

Song – Chahunga Main Tujhe (चाहूँगा मैं तुझे)

Lyrics penned by Majrooh Sultanpuri

Music composed by Laxmikant Pyarelal

Originally sung by Mohammed Rafi

चाहूँगा मैं तुझे साँझ सवेरे
फिर भी कभी अब नाम को तेरे
आवाज़ मैं न दूँगा, आवाज़ मैं न दूँगा

देख मुझे सब है पता
सुनता है तू मन की सदा
मितवा, मेरे यार तुझको बार-बार
आवाज़ मैं ना दूँगा…

दर्द भी तू, चैन भी तू
दरस भी तू, नैन भी तू
मितवा, मेरे यार तुझको बार-बार
आवाज़ मैं ना दूँगा…

Song – Aap Ke Haseen Rukh Pe (आप के हसीन रुख़ पे )

Lyrics penned by Anjaan
Music composed by O.P. Nayyar
Originally sung by Mohammed Rafi

आप के हसीन रुख़ पे आज नया नूर है
मेरा दिल मचल गया तो मेरा क्या क़ुसूर है
आप की निगाह ने कहा तो कुछ ज़ुरूर है
मेरा दिल मचल गया तो मेरा क्या क़ुसूर है

खुली लटों की छाँव में खिला-खिला सा रूप है
घटा पे जैसे छा रही सुबह-सुबह की धूप है
जिधर नज़र मुड़ी उधर सुरूर ही सुरूर है
मेरा दिल …

झुकी-झुकी निगाह में भी हैं बला की शोख़ियाँ
दबी-दबी हंसी में भी तड़प रही हैं बिजलियाँ
शबाब आप का नशे में ख़ुद ही चूर-चूर है
मेरा दिल …

जहाँ-जहाँ पड़े कदम वहाँ फ़िज़ां बदल गई
कि जैसे सर-बसर बहार आप ही में ढल गई
किसी में ये कशिश कहाँ जो आप में हुज़ूर है
मेरा दिल….

 

Song – Tumne Mujhe Dekha (तुमने मुझे देखा)

Lyrics penned by Majrooh Sultanpuri
Music composed by Rahul Dev Burman
Originally sung by Mohammed Rafi

तुमने मुझे देखा, हो कर मेहरबान
रुक गयी ये ज़मीं, थम गया आसमां
जाने मन, जाने जाँ
तुमने मुझे…

कहीं दर्द के सहरा में, रुकते चलते होते
इन होंठों की हसरत में, तपते जलते होते
मेहरबान हो गयी, ज़ुल्फ़ की बदलियाँ
जानेमन, जाने जाँ…

लेकर ये हसीं जलवे, तुम भी न कहाँ पहुंचे
आखिर को मेरे दिल तक, क़दमों के निशाँ पहुंचे
ख़त्म से हो गए, रास्ते सब यहाँ
जानेमन, जाने जाँ…

 

Song – Ehsaan Tera Hoga Mujh Par (एहसान तेरा होगा मुझ पर)

Lyrics penned by Hasrat Jaipuri
Music composed by Shankar Jaikishen
Originally sung by Mohammed Rafi

 

एहसान तेरा होगा मुझ पर
दिल चाहता है वो कहने दो
मुझे तुमसे मोहब्बत हो गयी है
मुझे पलकों की छाँव में रहने दो

तुमने मुझको हँसना सिखाया
रोने कहोगे रो लेंगे अब
आंसू का हमारे गम ना करो
वो बहते हैं तो बहने दो
मुझे तुमसे…

चाहे बना दो चाहे मिटा दो
मर भी गए तो देंगे दुआएं
उड़-उड़ के कहेगी ख़ाक सनम
ये दर्द-ए-मोहब्बत सहने दो
मुझे तुमसे…

 

Song – Chhu Lene Do Nazuk (छू लेने दो नाज़ुक )

Lyrics penned by Sahir Ludhianvi
Music composed by Ravi
Originally sung by Mohammed Rafi

 

छू लेने दो नाज़ुक होठों को
कुछ और नहीं हैं जाम हैं ये
क़ुदरत ने जो हमको बख़्शा है
वो सबसे हंसीं ईनाम हैं

ये शरमा के न यूँ ही खो देना
रंगीन जवानी की घड़ियाँ
बेताब धड़कते सीनों का
अरमान भरा पैगाम है ये,
छू …

अच्छों को बुरा साबित करना
दुनिया की पुरानी आदत है
इस मै को मुबारक चीज़ समझ
माना की बहुत बदनाम है ये,
छू …

 

Song – Chandan sa Badan (चन्दन सा बदन )

Lyrics penned by Indivar
Music composed by Kalyanji Anandji
Originally sung by Mukesh

चन्दन सा बदन चंचल चितवन
धीरे से तेरा ये मुस्काना
मुझे दोष न देना जग वालों – (२)
हो जाऊँ अगर मैं दीवाना
चन्दन सा …

ये काम कमान भँवे तेरी
पलकों के किनारे कजरारे
माथे पर सिंदूरी सूरज
होंठों पे दहकते अंगारे
साया भी जो तेरा पड़ जाए – (२)
आबाद हो दिल का वीराना
चन्दन सा …

तन भी सुंदर मन भी सुंदर
तू सुंदरता की मूरत है
किसी और को शायद कम होगी
मुझे तेरी बहुत ज़रूरत है
पहले भी बहुत मैं तरसा हूँ – (२)
तू और न मुझको तरसाना
चन्दन सा …

Song – Kisi Ki Muskurahaton (किसी की मुस्कुराहटों)

Lyrics Penned by  Shailendra
Music Composed by Shankar Jaikishen
Originally Sung by Mukesh

किसी की मुस्कुराहटों पे हो निसार
किसीका दर्द मिल सके तो ले उधार
किसीके वास्ते हो तेरे दिल में प्यार
जीना इसी का नाम है किसी की …

(माना अपनी जेब से फ़कीर हैं
फिर भी यारों दिल के हम अमीर हैं ) – (२)
मिटे जो प्यार के लिये वो ज़िन्दगी
जले बहार के लिये वो ज़िन्दगी
किसी को हो न हो हमें तो ऐतबार
जीना इसी का नाम है

(रिश्ता दिल से दिल के ऐतबार का
ज़िन्दा है हमीं से नाम प्यार का ) – (२)
के मर के भी किसी को याद आयेंगे
किसी के आँसुओं में मुस्कुरायेंगे
कहेगा फूल हर कली से बार बार
जीना इसी का नाम है

Song – Badi Suni Suni Hain (बड़ी सूनी सूनी है)

Lyrics Penned by Mazrooh Sultanpuri
Music Composed by Sachin Dev Burman
Originally Sung by Kishore Kumar

बड़ी सूनी सूनी है ज़िंदगी ये ज़िंदगी – (२)
मैं खुद से हूँ यहाँ अजनबी अजनबी
बड़ी…

कभी एक पल भी, कहीं ये उदासी
दिल मेरा भूले
कभी मुस्कुराकर दबे पाँव आकर
दुख मुझे छूले
न कर मुझसे ग़म मेरे, दिल्लगी ये दिल्लगी
बड़ी…

कभी मैं न सोया, कहीं मुझसे खोया
सुख मेरा ऐसे
पता नाम लिखकर, कहीं यूँही रखकर
भूले कोई कैसे
अजब दुख भरी है ये, बेबसी बेबसी
बड़ी…

Song – Zindagi Ka Safar (जिन्दगी का सफ़र)

Lyrics Penned by Indivar
Music composed by Kalyanji Anandji
Originally Sung by Kishore Kumar

जिन्दगी का सफ़र, है ये कैसा सफ़र
कोई समझा नहीं, कोई जाना नहीं
है ये कैसी डगर, चलते हैं सब मगर
कोई समझा नहीं, कोई जाना नहीं

जिन्दगी को बहुत प्यार हमने दिया
मौत से भी मोहब्बत निभायेंगे हम
रोते-रोते जमाने में आये मगर
हंसते-हंसते जमाने से जायेंगे हम
जायेंगे पर किधर, है किसे ये खबर
कोई समझा नहीं…

ऐसे जीवन भी हैं, जो जिए ही नहीं
जिनको जीने से पहले ही मौत आ गयी
फूल ऐसे भी हैं, जो खिले ही नहीं
जिनको खिलने से पहले खिजा खा गयी
है परेशां नजर, थक गए चार अगर
कोई समझा नहीं…

Song – Mana Janab ne Pukara Nahin (माना जनाब ने पुकारा नहीं)

Lyrics Penned by Mazrooh Sultanpuri
Music Composed by Sachin Dev Burman
Originally Sung by Kishore Kumar

माना जनाब ने पुकारा नहीं
क्या मेरा साथ भी गंवारा नहीं
मुफ़्त में बनके, चल दिये तनके,
वल्ला जवाब तुम्हारा नहीं
माना जनाब ने…

यारों का चलन है गुलामी
देतें हैं हसीनों को सलामी
गुस्सा ना कीजिये, जाने भी दीजिये
बन्दगी तो बन्दगी तो लीजिये साहब
माना जनाब ने…

टूटा फूटा दिल ये हमारा
जैसा भी है अब है तुम्हारा
इधर देखिये, नज़र फेरिये
दिल्लगी ना दिल्लगी ना कीजिये साहब
माना जनाब ने…

माशा अल्ला कहना तो माना
बन गया बिगड़ा ज़माना
तुमको हँसा दिया, प्यार सिखा दिया
शुक्रिया तो शुक्रिया तो कीजिये साहब
माना जनाब ने…

Song – Kaise Kahein Hum (कैसे कहें हम)

Lyrics penned by Neeraj
Music Composed by Sachin Dev Burman
Originally Sung by Kishore Kumar

कैसे कहें हम, प्यार ने हमको, क्या क्या खेल दिखाये
यूं शरमाई, किस्मत हमसे, खुद से हम शरमाए

बागों को तो पतझड़ लूटे, लूटा हमें बहार ने
दुनिया मरती मौत से लेकिन, मारा हमको प्यार ने
अपना वो हाल हैं बीच सफ़र में जैसे कोई लुट जाये
कैसे कहें हम प्यार ने हमको क्या क्या खेल दिखाये

तुम क्या जानो,
तुम क्या जानो, क्या चाहा था क्या लेकर आये हम
टूटे सपने घायल नगमे कुछ शोले कुछ शबनम
इतना सब है पाया हमने कहो तो कहाँआ जाये
कैसे कहें हम प्यार ने हमको क्या क्या खेल दिखाये

ऐसे बाजी शहनाई घर में, अब तक सो ना सके हम
अपनों ने हमको इतना सताया, रोये तो रो ना सके हम
अब तो करो कुछ ऐसा यारों होश ना हमको आये
कैसे कहें हम प्यार ने हमको क्या क्या खेल दिखाये
यूं शरमाई किस्मत हमसे खुद से हम

Song – Mere Diwanepan Ki Bhi (मेरे दीवानेपन की भी)

Lyrics Penned by Anand Bakshi
 Music Composed by Laxmikant Pyarelal
 Originally sung by Kishore Kumar

मेरे दीवानेपन की भी दवां नहीं
मैने जाने क्या सुन लिया,
तू ने तो कुछ कहा नहीं

मैं ये समझा मेरे दिल की कोई हसरत निकल गई
तूने देखा मुझे ऐसे के तबियत मचल गई
वर्ना तेरे सर की कसम आदमी मैं बुरा नहीं
बेअदब हूँ मैं दीवाना इस कदर तू खफा हुई
छू लिया क्यो बदन तेरा, तोबा कैसी ख़ता हुई
सारी दुनिया में कोई मेरे लायक सज़ा नहीं

चाँदनी रात में जैसे रूख-ये-गुल पे किरन पड़ी
बेसबब रूठकर तेरे माथेपर यूँ शिकंद पड़ी
मेरे मेहबूब ये तेरी बेरूख़ी है अदा नहीं

Song – Kaun Hai Jo Sapno Mein Aaya (कौन है जो सपनों में आया)

Lyrics penned by Hasrat Jaypuri
Music Composed by Shankar Jaikishen
Originally Sung by Mohammed Rafi

कौन है जो सपनों में आया
कौन है जो दिल में समाया
लो झुक गया आसमां भी
इश्क़ मेरा रंग लाया
ओ प्रिया, ओ प्रिया…

ज़िन्दगी के हर इक मोड़ पे मैं
गीत गाता चला जा रहा हूँ
बेखुदी का ये आलम न पूछो
मन्ज़िलों से बढ़ा जा रहा हूँ, …

सज गई आज सारी दिशाएं
खुल गईं आज जन्नत की राहें
हुस्न जबसे मेरा हो गया है
मुझपे पड़ती हैं सबकी निगाहें, …

जिस्म को मौत आती है लेकिन
रूह को मौत आती नहीं है
इश्क़ रौशन है रौशन रहेगा
रौशनी इसकी जाती नहीं है, …

Song – Manzilein Apni Jagah (मंजिलें अपनी जगह )

Lyrics penned by Anjaan 
Music composed by Bappi Lahiri 
Originally sung by Kishor Kumar

मंज़िलों पे आ के लुटते, हैं दिलों के कारवाँ
कश्तियाँ साहिल पे अक्सर, डूबती है प्यार की

मंज़िलें अपनी जगह हैं, रास्ते अपनी जगह
जब कदम ही साथ ना दे, तो मुसाफिर क्या करे
यूं तो है हमदर्द भी और हमसफ़र भी है मेरा
बढ़ के कोई हाथ ना दे, दिल भला फिर क्या करे

डूबने वाले को तिनके का सहारा ही बहुत
दिल बहल जाए फ़क़त इतना इशारा ही बहुत
इतने पर भी आसमां वाला गिरा दे बिजलियाँ
कोई बतला दे ज़रा ये डूबता फिर क्या करे
मंजिलें अपनी जगह…

प्यार करना जुर्म है तो, जुर्म हमसे हो गया
काबिल-ए-माफी हुआ, करते नहीं ऐसे गुनाह
तंगदिल है ये जहां और संगदिल मेरा सनम
क्या करे जोश-ए-जुनूं और हौसला फिर क्या करे
मंज़िलें अपनी जगह…

Song – Aa Chalke Tujhe (आ चल के तुझे )

Lyrics penned by Kishore Kumar
Music composed by Kishore Kumar
Originally sung by Kishore Kumar

आ चल के तुझे, मैं ले के चलूं
इक ऐसे गगन के तले
जहाँ ग़म भी न हो, आँसू भी न हो
बस प्यार ही प्यार पले

सूरज की पहली किरण से, आशा का सवेरा जागे
चंदा की किरण से धुल कर, घनघोर अंधेरा भागे
कभी धूप खिले, कभी छाँव मिले
लम्बी सी डगर न खले
जहाँ ग़म भी नो हो…

जहाँ दूर नज़र दौड़ाएं, आज़ाद गगन लहराए
जहाँ रंग बिरंगे पंछी, आशा का संदेसा लाएँ
सपनों में पली, हँसती हो कली
जहाँ शाम सुहानी ढले
जहाँ ग़म भी न हो…

सपनों के ऐसे जहां में, जहाँ प्यार ही प्यार खिला हो
हम जा के वहाँ खो जाएं, शिकवा न कोई गिला हो
कहीं बैर न हो, कोई गैर न हो
सब मिलके यूँ चलते चलें
जहाँ गम भी न हो…

Song – Main Shayar Badnaam (मैं शायर बदनाम)

Lyrics penned by Anand Bakshi
Music composed by Rahul Dev Burman
Originally sung by Kishore Kumar

मैं शायर बदनाम मैं चला, मैं चला
महफ़िल से नाकाम मैं चला, मैं चला

मेरे घर से तुमको, कुछ सामान मिलेगा
दीवाने शायर का, इक दीवान मिलेगा
और एक चीज़ मिलेगी, टूटा खाली जाम
मैं चला…

शोलों पे चलना था, काँटों पे सोना था
और अभी जी भर के, किस्मत पे रोना था
जाने ऐसे कितने, बाकी छोड़ के काम
मैं चला…

रास्ता रोक रही है, थोड़ी जान है बाकी
जाने टूटे दिल में, क्या अरमान है बाकी
जाने भी दे ऐ दिल, सबको मेरा सलाम
मैं चला…

Song – Phoolon Ke Rang Se (फूलों के रंग से)

Lyrics penned by Neeraj
Music composed by Sachin Dev Burman
Originally sung by Kishore Kumar

फूलों के रंग से, दिल की कलम से
तुझको लिखी रोज़ पाती
कैसे बताऊँ, किस किस तरह से
पल पल मुझे तू सताती
तेरे ही सपने, लेकर के सोया
तेरी ही यादों में जागा
तेरे खयालों में उलझा रहा यूँ
जैसे के माला में धागा

हाँ, बादल, बिजली, चंदन, पानी
जैसा अपना प्यार
लेना होगा जनम हमें
कई कई बार
हाँ, इतना मदिर, इतना मधुर
तेरा मेरा प्यार
लेना होगा जनम हमें
कई कई बार

साँसों की सरगम, धड़कन की वीना
सपनों की गीताँजली तू
मन की गली में, महके जो हरदम
ऐसी जुही की कली तू
छोटा सफ़र हो, लम्बा सफ़र हो
सूनी डगर हो या मेला
याद तू आए, मन हो जाए, भीड़ के बीच अकेला
हाँ, बादल, बिजली…

पूरब हो पच्छिम, उत्तर हो दक्खिन
तू हर जगह मुस्कुराए
जितना ही जाऊँ, मैं दूर तुझसे
उतनी ही तू पास आए
आँधी ने रोका, पानी ने टोका
दुनिया ने हँस कर पुकारा
तसवीर तेरी, लेकिन लिये मैं, कर आया सबसे किनारा
हाँ, बादल, बिजली…

Song – Kahin Dur Jab Din Dhal Jaye (कहीं दूर जब दिन ढल जाए)

Lyrics penned by Yogesh
Music composed by Salil Choudhury
Originally sung by Mukesh

कहीं दूर जब दिन ढल जाए
साँझ की दुल्हन बदन चुराए
चुपके से आए
मेरे ख़यालों के आँगन में
कोई सपनों के दीप जलाए, दीप जलाए
कहीं दूर …

कभी यूँहीं, जब हुईं, बोझल साँसें
भर आई बैठे बैठे, जब यूँ ही आँखें
तभी मचल के, प्यार से चल के
छुए कोई मुझे पर नज़र न आए, नज़र न आए
कहीं दूर …

कहीं तो ये, दिल कभी, मिल नहीं पाते
कहीं से निकल आए, जनमों के नाते
घनी थी उलझन, बैरी अपना मन
अपना ही होके सहे दर्द पराये, दर्द पराये
कहीं दूर …

दिल जाने, मेरे सारे, भेद ये गहरे
खो गए कैसे मेरे, सपने सुनहरे
ये मेरे सपने, यही तो हैं अपने
मुझसे जुदा न होंगे इनके ये साये, इनके ये साये
कहीं दूर …

Song – Teri Aankhon ke Siwa (तेरी आँखों के सिवा)

Lyrics penned by Majrooh Sultanpuri
Music composed by Madan Mohan
Originally sung by Mohammed Rafi

तेरी आँखों के सिवा दुनिया में रखा क्या है
ये उठे सुबह चले, ये झुके शाम ढले
मेरा जीना, मेरा मरना
इन्हीं पलकों के तले

पलकों की गलियों में चेहरे बहारों के हंसते हुए
है मेरे ख़्वाबों के क्या-क्या नगर इनमें बसते हुए
ये उठे सुबह…

इनमें मेरे आने वाले ज़माने की तस्वीर है
चाहत के काजल से लिखी हुई मेरी तकदीर है
ये उठे सुबह…

Song – Yeh Nayan Dare Dare (ये नयन डरे डरे)

Lyrics penned by Kaifi Azmi
Music composed by Hemant Kumar
Originally sung by Hemant Kumar
ये नयन डरे-डरे, ये जाम भरे-भरे
ज़रा पीने दो
कल की किसको खबर, इक रात हो के निडर
मुझे जीने दो
रात हसीं, ये चाँद हसीं
पर सबसे हसीं मेरे दिलबर
और तुझसे हसीं तेरा प्यार
तू जाने ना
ये नयन डरे डरे…
प्यार में है जीवन की खुशी
देती है खुशी कई गम भी
मै मान भी लूँ कभी हार
तू माने ना
ये नयन डरे डरे…

Song – Ya Dil ki Suno (या दिल की सुनो)

Lyrics penned by Kaifi Azmi
Music composed by Hemant Kumar
Originally sung by Hemant Kumar

या दिल की सुनो दुनियावालों
या मुझको अभी चुप रहने दो
मैं ग़म को खुशी कैसे कह दूँ
जो कहते हैं उनको कहने दो

ये फूल चमन में कैसा खिला
माली की नज़र में प्यार नहीं
हँसते हुए क्या-क्या देख लिया
अब बहते हैं आँसू बहने दो
या दिल की सुनो…

एक ख़्वाब खुशी का देखा नहीं
देखा जो कभी तो भूल गये
माना हम तुम्हें कुछ दे ना सके
जो तुमने दिया वो सहने दो
या दिल की सुनो…

क्या दर्द किसी का लेगा कोई
इतना तो किसी में दर्द नहीं
बहते हुए आँसू और बहें
अब ऐसी तसल्ली रहने दो
या दिल की सुनो…

Song – Jiwan se bhari teri aankhen (जीवन से भरी तेरी आँखें)

Lyrics penned by Indivar
Music composed by Kalyan ji Anand ji
Originally sung by Kishor Kumar

जीवन से भरी तेरी आँखें
मजबूर करे जीने के लिये
सागर भी तरसते रहते हैं
तेरे रूप का रस पीने के लिये
जीवन से भरी तेरी आँखें …

तस्वीर बनाये क्या कोई
क्या कोई लिखे तुझपे कविता
रंगों छंदों में समाएगी
किस तरह से इतनी सुंदरता
एक धड़कन है तू दिल के लिये
एक जान है तू जीने के लिये
जीवन से भरी तेरी आँखें …

मधुबन कि सुगंध है साँसों में
बाहों में कंवल की कोमलता
किरणों का तेज है चेहरे पे
हिरनों की है तुझ में चंचलता
आंचल का तेरे एक तार बहुत
कोई छाक जिगर सीने के लिये
जीवन से भरी तेरी आँखें …

Song – Chingari Koi Bhadke (चिंगारी कोई भड़के)

Lyrics penned by Anand Bakshi
Music composed by Rahul DevBurman
Originally sung by Kishor Kumar

चिंगारी कोई भड़के, तो सावन उसे बुझाये
सावन जो अगन लगाये, उसे कौन बुझाये
पतझड़ जो बाग़ उजाड़े, वो बाग़ बहार खिलाये
जो बाग़ बहार में उजड़े, उसे कौन खिलाये

हमसे मत पूछो कैसे, मंदिर टूटा सपनों का
लोगों की बात नहीं है, ये क़िस्सा है अपनों का
कोई दुश्मन ठेस लगाये, तो मीत जिया बहलाये
मन मीत जो घाव लगाये,
उसे कौन मिटाये…

ना जाने क्या हो जाता, जाने हम क्या कर जाते
पीते हैं तो ज़िन्दा हैं, न पीते तो मर जाते
दुनिया जो प्यासा रखे, तो मदिरा प्यास बुझाये
मदिरा जो प्यास लगाये,
उसे कौन बुझाये…

माना तूफाँ के आगे, नहीं चलता ज़ोर किसी का
मौजों का दोष नहीं है, ये दोष है और किसी का
मझधार में नैय्या डोले, तो माझी पार लगाये
माझी जो नाव डुबोए,
उसे कौन बचाये…

Song – Bekarar Kar Ke Humey  (बेक़रार करके हमें)

Lyrics penned by Shakil Badayuni
Music composed by Hemant Kumar
Originally sung by Hemant Kumar

बेक़रार करके हमें यूँ न जाईये,
आपको हमारी कसम लौट आईय

देखिए वो काली काली बदलियाँ
ज़ुल्फ़ की घटा चुरा न लें कहीं
चोरी-चोरी आ के शोख बिजलियाँ
आपकी अदा चुरा न लें कहीं
यूँ कदम अकेले न आगे बढ़ाईये
आपको हमारी…

देखिए गुलाब की वो डालियाँ
बढ़के चूम लें न आपके कदम
खोए-खोए भंवरें भी हैं बाग़ में
कोई आपको बना न ले सनम
बहकी-बहकी नज़रों से खुद को बचाईये
आपको हमारी…

ज़िंदगी के रास्ते अजीब हैं
इनमें इस तरह चला न कीजिए
खैर है इसी में आपकी हुज़ूर
अपना कोई साथी ढूँढ लीजिए
सुन के दिल की बात न मुस्कुराईये
आपको हमारी…